भाभी की जवान चूत को अपने बड़े लंड से चोदा


मेरा नाम सिद्धार्थ है | मेरी उम्र २४ साल है और मेरी हाईट 6 फीट है | रंग सांवला है और मै हेल्थी हूँ | लगभग डेढ़ साल पहले की बात है जब मैं कॉलेज में हुआ करता था | पर मेरा पी.जी. कम्प्लीट हो चुका था तो अब ज्यादातर मैं घर में रहता था और सरकारी नौकरी की तयारी करता रहता था | हमारे घर के बाजू में चाचा का घर है और उनका एक बड़ा बेटा है जो की आर्मी में जॉब करते हैं | आप सभी जानते हैं की आर्मी की नौकरी एक जगह स्थिर नहीं रहने देती तो उनका ट्रान्सफर होता रहता था और ज्यादातर टाइम बाहर ही रहा करते थे और बस छुट्टियों में ही घर आ पाते थे | वो शादीशुदा थे और भाभी घर में अकेली ही रहती थी चाचा चाची के साथ उनका बेटा या बेटी नहीं थे | मैं कभी कभी भाभी के साथ बात कर लिया करता था और हमलोग कभी कभी घर का सामान लेने साथ जाते थे | भैया के ना होने पर भाभी मायूस हो जाती थी इसलिए जब भी वो बोर होती तो वो मुझे घर बुला लिया करती थी उनका भी टाइमपास हो जाता था | चाचा चाची को किसी फंक्शन में जाना था चाची के ननिहाल में | और घर खाली छोड़ नहीं सकते थे तो भाभी नहीं गयी और उनको भी अकेले नहीं रहा जाता था………तो उनके साथ मैं रुक गया था तो चाची चाचा को टेंशन लेने की कोई जरुरत नहीं थी …..

एक दिन हम दोपहर में खाना खा रहे थे साथ मैं और टीवी देख रहे थे उसमे ऐड में ब्रा पेंटी का ऐड आया और रिमोट दूर था मुझसे तो मैं तुरंत बदल नहीं पाया फिर वो एड देख के भाभी भी मुस्कुरा दी और मैं भी मुस्कुरा कर खाना खाने लगा | खाना खाने के बाद हम लेटने गये भाभी अलग सोती थी और मैं भी अलग क्यूंकि दिन का टाइम था और रात में हम दोनों साथ में सोते थे | एक बार मैं शाम को अपने दोस्तों के साथ मूवी गया तो उस मूवी में भाभी और देवर के अश्लील हरकतों के बारे में दिखाया जा रहा था मैं ना चाहते हुए भी भाभी के बारे में ऐसा सोचने लगा था | फिर मूवी ख़त्म हुई और मैं  रात के 9 बजे घर पहुंचा दरवाजा खुला था तो मुझे थोडा शक हुआ की राते में घर का दरवाजा कैसे खुला है | वेसे दोस्तों हमारे कॉलोनी में चोरी जैसी वारदाते नहीं होती है इसलिय मैंने जयादा नहीं सोचा और सीधे अन्दर चला गया पर मैंने आवाज़ नहीं लगाईं मैं भाभी के कमरे में गया तो मैं घबरा गया था क्यूंकि भाभी अपनी चूत ऊपर से सहला रही थी और ब्लू फिल्म देख के अपने दूध भी दबा रही थी फिर मैंने सोचा की शायद भाभी मेन डोर बंद करना भूल गयी होंगी | पर मैं अपने सामने का ये नज़ारा देख के दंग रह गया था |

एक तो उस मूवी में भाभी और देवर के रिश्ते तार तार हो रहे थे और यहाँ भाभी अपने दूध मसल रही थी और चूत सहला रही थी वो भी अश्लील मूवी देख के | वैसे मुझे भी भाभी को ऐसे देखने में बहुत अच्छा लग रहा था | इसलिये मैं भाभी को डिस्टर्ब नहीं करना चाहता था फिर मै वापस जाने लगा था तो चप्पल की आवाज़ आ गयी होगी भाभी को तुरंत सब बंद करके दौड़ लगाके बाहर निकली और मुझे पूछा तू अन्दर कैसे आ गया मैंने दरवाज़ा लॉक किया था | तो मैंने भाभी से कहा कि भाभी दरवाज़ा खुला था और मैं आपके पास आ ही रहा था की मुझे टॉयलेट जाना पड़ गया तो मैं आपके पास न आके वहाँ जाने लगा | तब भाभी को लगा मैंने कुछ नहीं देखा पर उनको ये भी मैं नहीं बताना चाहता था की मैंने सब कुछ देख लिया था……….फिर उसके अगले दिन भाभी नहा रही थी और वो टावल ले जाना भूल गयी थी | उन्होंने मुझे आवाज़ लगायी कि मैं उन्हें टावल दे दूँ तो जब मैं टावल देने गया तो भाभी ने मुझसे कहा कि मैं नहा लूँ फिर तू भी नहा लेना | मैंने ओके कहा और फिर मैं टीवी देखने लगा ………   भाभी नहा के निकली तो मैं उन्हें देखता ही रह गया वो बहुत सुन्दर लग रही थी और गीले बाल देख के तो मजा ही आ गया | मैं भाभी को घूर घूर कर देख रहा था तभी भाही ने पूछा कि क्या देख रहा है ऐसे घूर घूर के तो मैंने भाभी से कहा की आप बहुत सुंदर लग रहे हो भाभी………तो भाभी पागल बोल के अपने कमरे में चली गयी……..अब मेरा मन भाभी के प्रति बदल रहा था | अब मैं भाभी को चोदने की निगांहो से देख रहा था…..भाभी खाना बना रही थी तो मैं उनकी गांड देखता वो झुक के झाडू पोछा करती तो मैं उनके दूध देखने की कोशिश करता………

अब मैं भाभी को सिर्फ चोदना चाहता था और मैं जानता था की भाभी भी चुदासी थी तो मैंने सोचा की ज्यादा टाइम नहीं लगेगा भाभी को पटाने में | पर ये भी जानता था की अगर भाभी ने मना कर दिया और सबको बता दिया तो मेरा क्या हाल होगा ? फिर मैंने सोचा की अब जो होगा देखा जायगा जब लंगड़ डाला है तो मछली भी फस ही जायगी | रात में हम दोनों खाना खाके सोने की तयारी करने लगे मैं भाभी के बाजु में ही सोता था और रात के करीब 11 बजे मेरी नींद खुली और मैंने देखा की भाभी नही हैं बिस्तर पर मैं समझा गया की भाभी कहाँ गयी होगी | मैंने भी सोचा ये बहुत अच्छा मौका है इसको हाथ से जाने नहीं देना चाहिए………फिर मैं ऊपर वाले कमरे में गया भाभी पूरी नंगी थी और और अपनी चूत सहला रही थी ब्लू फिल्म देख के | मैंने दरवाजा खटखटाया भाभी एक दम से डर गयी और कपडे पहनने लगी तो मैंने आवाज़ दी कि भाभी मैं हूँ सिद्धार्र्थ दरवाजा खोलो डरो मत तब भाभी ने बोला की रुक आती हूँ और वो बिना ब्रा पेंटी पहने सिर्फ गाउन पहन के बाहर आ गयी और पूछने लगी कि तू यहाँ क्या कर रहा है ? तो मैंने भाभी से कहा की आपको ही देखने आया था आप यहाँ क्या कर रहे हो ? वो कुछ नही बोली और नीचे आ कर बेड पर सोने लगी फिर मैं भी नीचे आ गया और भाभी से कहा की भाभी आप डरिये मत मैंने आपको देख लिया था जो आप कर रही थी और मुझे बेशरम बोल के बोली कि तुम्हे शर्म नहीं आती की तुम ऐसे अपनी भाभी को देख रहे थे तो मैंने बोला की भाभी मैं तो ये सब नहीं देखता अगर आप नहीं करती तो |

तो मैंने भाभी से कहा की भाभी ये सब बात छोड़ो मैं आपसे कुछ कहना चाहता हूँ……..और खड़ा हो के उनके पास गया और अपना लोअर नीचे करके अपना खड़ा हुआ लंड दिखा दिया | भाभी मेरा लंड देखते ही रह गयी और बोली की इतना बड़ा लंड और चुप हो गयी | तो मैंने बोला की भाभी मैं जानता हूँ की भैया दूर रहते हैं और आप यहाँ चुदासी रहती हो आखिर आप की भी तो इच्छा होती है | लंड लेने की तो आप अपनी इच्छा क्यों मार रहे हो तो…….देखो मैं आपसे प्यार करता हूँ और आपको चोदना चाहता हूँ | भाभी बोली की ये नहीं हो सकता अगर किसी को पता चल गया तो मुझे घर से निकाल देंगे | तो मैंने भाभी को समझाया की भाभी हमारे अलावा किसी को नहीं पता चलेगा और मैंने अपने भाभी के होंठ में रख दिए | भाभी को भी अच्छा लगा और हम किस करने लगे | मैं उनके दूध भी दबाते जा रहा था जिसको मैं सिर्फ कुछ दिनों से दूर से ही देख पा रहा था…

फिर मैं भाभी के दूध को हाथ में ले के चूसने लगा और भाभी उइऊउन्न्हा आः आअहहह अहहहः अहहहहा ऊनंह कर के अपने दूध चुसवा रही थी और मेरा सर अपने दूध में दबा रही थी | और बोलते जा रही थी और चूस आअहहहब्ब ऊऊन्न्ग और चूसो…..दूध पीने के बाद मैं भाभी की चूत चाटने लगा और भाभी अआः अनाहाहा अहहहाहन ऊऊउन्न्ह आहाहाहा अहहहहऊँन कर रही थी | भाभी की चूत का पानी निकल चुका था और  वो मैं पी गया था | पूरा चूत का पानी निकल गया था तब भी चूत चाट रहा था | भाभी ने कहा की बस अब तू सीधे अपना लंड मेरी चूत में डाल और चोद दे…..  आज अपनी भाभी को चोद बहुत टाइम से मेरी चूत प्यासी है……….आज अपनी भाभी की चूत की प्यास बुझा दे…फिर मैंने भाभी की चुदाई चालू कर दी और भाभी को बहुत मजे से चोद रहा था और भाभी भी मजे से चुदवा रही थी | आआहहहह उऔउऔअन्हा आहाहाहा अहाहह और चोदो जोर से चोदो आअहहहह आऊऊह्ह्हाहः ऊउन्न्ह बहुत मजा आ रहा है बहुत अच्छा लग रहा है …. मैं उनको चोदता रहा 10 मिनट तक | उस रात हमलोग ने ४ बार चुदाई की और अब जब भी मौका मिलता है हम खूब चुदाई करते हैं…….

दोस्तों ये रही मेरी भाभी के प्यार की कहानी आप लोगों को कैसी लगी ये स्टोरी ? उम्मीद करता हूँ की आप लोगों को पसंद आई होंगी…स्टोरी पढने के लिए धन्यवाद |


error:

Online porn video at mobile phone


shat xxxmami k sathhindi sexy stroychut me kissbur chatnaगाँव की मस्तीखोर भाभियाँSasur ji ne kha bas ek bar sex storyaunty ki gand mari hindichut chatne wala bfantarvasna hindi stories chudai ki kahanianyerwasnanew bhabhi sexsex story mami ki chudaipados ki aunty ko chodadesi incest stories in hindisavita bhabhi ki chudai hindi kahanichachi ko chod diyachudai ki khaniyasxe storyhindi adults story hindi fontbhabhi suhagrat photohindi chudai ki kahani pdfsex stories of familyindian hot lesbian sexteri gaandbhabhi ki chudai ki kahani hindisunday ki chudaibache se chudai sex stoमम्मे पकड कर चुत कि चुदाई कि फोटोland with chutwww indinsexsexy kuwari ladkijawani ki kahanimast sex kahanichudai ki katha in hindidesi mami chudai kahanipadosan bhabi ke chudai dehkonakli chutdesi chudai bhabhibhabhi ki gaand picshindi park sexhot sexi storykutte aur ladki ka sexwww chudai comboor chudai kahani hindi mesister ko porn dikhai hindi sex storyHot khaniya pyasi madam college ki gaandjija sali ki chudai hindipregnant chootसेकसी.कहानी.चाचा.भतीजी.की.चुदाईchoot pronchoodai ki kahani hindi mebhanje ne Mose ko choda saxyi Hindibhabhi ki chudai ki sexy storybhabhi chut picसैक्सी जबरदस्ती लङकी कहानीbhabhi ki chudai ki storymast aunty ki chudaifirst night full sexलङकी की चुत फाङ सैक्सी विडियोsuhaagraat chudai storymaa ki mast chudaisasur ki chudai storyfriend ko jabardasti chodabhabhi chut nakhikhel me chudaiwww kahani chudai ki comoldsexstorihindiboor chod storydesi kahani maaadult story in hindi languagechudai jobboor ki chudai ki story