खुल्लम खुल्ला चुदाई करेंगे हम दोनों


हैल्लो मेरे भाइयों और उनकी बहनों, मैं हूँ सूरज दास और मैं उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूँ | मेरी लम्बाई 6 फीट है और रंग सांवला है | मैं अपने कॉलेज में जाना माना डांसर हूँ और गिटार भी बजा लेता हूँ | और आपको तो पता ही है डांस करने वाले और गिटार बजाने वाले लड़के लड़कियों को बहुत पसंद है | मैं इन्ही सब चीज़ों का फयादा उठा कर एक से एक लड़कियां पटाता था | मैंने एक बार कॉलेज की एक लड़की को बाहर सुनसान रास्ते पे चोदा था | अब मैं सीधे अपनी कहानी पे आता हूँ |

मैं जब कॉलेज में पढता था और सेकंड इयर में था तो हमारी जूनियर्स में एक लड़की आई जो बहुत मस्त माल लगाती थी और गांड मटका के चलती थी | वो लड़की अमीर भी थी क्योंकि वो कॉलेज कार में आती थी और उसका ड्राईवर उसे छोड़ने आता था | जिस दिन मैंने पहली बार उसको देखा था तो मैंने सोच लिया था कि मेरी अगली गर्लफ्रेंड कोई बनेंगी तो यही बनेगी और सोचने लगा कि कैसे इसको पटाऊ |

एक बार कुछ लड़के उसकी रैगिंग ले रहे थे तो मैंने देखा और उसके पास गया और कहा अरे ! तुम यहाँ हो चलो सर बुला रहे है ऊपर | फिर मैंने उसका हाँथ पकड़ा और उसे लेके वहां से चला गया | अन्दर जाते वक़्त उसने पूछा कि कौन से सर बुला रहे हैं ? तो मैंने कहा कोई नहीं बुला रहा है, वो तो लड़के तुम्हारी रैगिंग ले रहे थे इसलिए मैं तुम्हें वहां से ले आया | उसने स्माइल करते हुए कहा थैंक यू सो मच | फिर मैंने पूछा अच्छा तुम्हारा नाम क्या है ? तो उसने बताया मेरा नाम दीप्ति है और मैं अभी फर्स्ट इयर में हूँ |

मैंने उससे पूछा उन लडको ने कोई बद्तामिज़ी तो नहीं की | तो उसने कहा नहीं की लेकिन अगर आप नहीं आते तो शायद ज़रूर करते | तो मैंने सर झुकाते हुए कहा बंदा आपकी खिदमत में हमेशा हाज़िर है | तो उसने प्यारी सी स्माइल दी और कहा थैंक यू | फिर उसने पूछा आपकी ब्रांच कौन सी है तो मैंने कहा वही जो तुम्हारी है | तो उसने कहा वाओ मतलब मैं आपकी जूनियर हूँ, तब तो आपसे मिलना जुलना होता रहेगा | तो मैंने कहा हाँ तुमसे मिलने में भी मज़ा आएगा | तो हमने एक दुसरे को देखा और हस दिया | फिर वो गुड बाय कह कर चली गई और मैंने अपने दिल से उन लडको को दुआ दी जिसने उसकी रैगिंग की और मैंने बीच में से मौका मार लिया |

हम दोनों कभी कभी मिलते थे और एक दिन कॉलेज में एक इवेंट था तो हम दोनों साथ बैठ गए और फिर मैंने अपनी सारी सैटिंग कर ली | मैंने उसका नंबर ले लिया और हमारी फ़ोन पर बातें शुरू हो गई | हम रात रात भर चैटिंग करते थे और फ़ोन पर बातें भी कर लिया करते थे लेकिन फ़ोन वही लगाती थी या फिर मैं मिस कॉल मार दिया करता था | एक बार उसने मुझसे कहा कि यार शौपिंग चलो न मेरा कोई फ्रेंड मेरे साथ नहीं जा रहा है | शौपिंग के लिए हम मॉल गए और मैं एक लड़की को देखने लगा तो वो गुस्सा हो गई और कहा ऐसे किसी भी लड़की को देखा गन्दी बात होती है | मैं समझ गया की लड़की सेट हो चुकी है बस बोलना बाकी है | फिर हम मॉल में घूम रहे थे तो मुझे एक जीन्स अच्छी लगी लेकिन वो बहुत महंगी थी 6500 की | तो उसने कहा ले लो तो मैंने कहा मेरे पास इतने पैसे नहीं हैं, तो उसने कहा मेरी तरफ से गिफ्ट समझ के रख लो और उसने जबरदस्ती वो जीन्स मुझे दिलवा दी |

फिर उसने मुझे अपनी कार में मेरे घर छोड़ा और चली गई | उस दिन रात को उसका फ़ोन आया और उसने यहाँ वहां की बातें शुरू कर दी | उसने पूछा वो जीन्स तुम कल पहन के आना, तो मैंने कहा ठीक है | तो मैंने कहा मुझे एक बात कहनी थी तो उसने कहा मुझे भी कुछ कहना है | तो मैंने कहा ठीक है पहले तुम बताओ, मैंने कहा पहले तुम और 5-10 मिनिट तक यही करते रहे | फिर उसने कहा मुझे पता है तुम क्या कहना चाहते हो | मैंने कहा क्या बताओ ? तो उसने कहा यही न जीन्स बहुत महंगी थी और मुझे अच्छा नहीं लग रहा है लेकिन मैं जो कहना चाहती हूँ वो ज्यादा ज़रूरी है | तो मैंने कहा हाँ बताओ | तो उसने कहा तुमने कॉलेज में मुझे रैगिंग से बचाया, फिर मेरी कई बार पढाई में मदद की और तुम ही एक ऐसे लड़के हो जो मेरे बहुत अछे दोस्त हो | तो मैंने कहा हाँ तो | तो उसने कहा समझ जाओ अब तो मैंने कहा नहीं समझा बताओ | तो उसने कहा आई लव यू इडियट |

फिर मैंने कहा बस बाकी बातें कल करेंगे | अगले दिन हम मिले और कहीं घूमने जाने का मन बना कर निकल गए | हम एक जगह पहुंचे और जैसे ही मैं उतरा तो वो मेरे पास आकर मुझ से लिपट गई और आई लव यू कह कर मुझे गाल पर किस करने लगी | फिर हम वहीँ पर एक दुसरे का हाँथ पकड़ कर घूमने लगे और एक जगह जा कर बैठ गए | वहां पर ज्यादा कोई आता जाता नहीं था | मैंने मौका देख कर उसे होंठों पर किस कर दिया और भी मुझे किस करने लगी | हम अक्सर वहां पर आकर बैठते थे और किस किया करते थे और मैं कभी कभी उसके दूध दबा दिया करता था और चूत पे हाँथ लगा दिया करता था |

एक दिन हमने कहीं दूर जाने का प्लान बनाया और कॉलेज से बंक मार कर लम्बे से निकल गए | मुझे एक जगह पता थी तो मैं और वो उसकी कार में वहां पहुँच गए | हम वहां पहुंचे और उसने पूछा हम यहाँ क्यों आये है, यहाँ तो कुछ नहीं है और कोई दिखाई भी नहीं दे रहा है | तो मैं उसके पास गया और बड़े प्यार से उसे किस करने लगा वो भी मेरा साथ दे रही थी | फिर मैंने उसकी कार का पीछे का दरवाज़ा खोला और हम दोनों लिपट कर एक दुसरे को किस करने लगे | फिर मैंने उसका टॉप उठाया और उसकी ब्रा हटा के उसके दूध चूसने लगा | वो कहने लगी छोडो कोई आ जायेगा लेकिन मैं लगा रहा | उसके दूध एक दूँ सफेद थे लेकिन ज्यादा बड़े नहीं थे पर उन्हें चूसने में बड़ा मज़ा आ रहा था | मैं उसके निप्पल से खेल रहा था और वो ऊऊम्मम्म ऊऊम्म्म्म य्य्याय्य्य कर रही थी |

फिर मैंने उसकी जीन्स खोली और उतार दी और पैंटी भी उतारने लगा तो वो बोली फिर कभी कर लेंगे | मैंने कहा पहली बार है क्या, जो डर रही हो तो उसने कहा नहीं | तो मैंने उसकी तरफ देखा लेकिन फिर मैं उसकी पैंटी उतारने लगा और फिर मैंने उसकी पैंटी उतार दी | मैंने उसकी चूत देखी तो वो बहुत छोटी सी प्यारी सी और एक दम साफ़ थी | मैंने अपनी जीभ उसकी चूत में लगाई तो उसने कहा आअह्ह्ह्ह और फिर मैं उसकी चूत चाटने लगा |

उसकी चूत से पानी आ रहा था और वो पानी मैं पीता जा रहा था | फिर मने उसकी चूत में ऊँगली करना शुरू कर दिया और वो आह्ह्ह्हः आह्हह्हा य्याह्ह्ह्ह ऊऊम्म्म्म येह्ह्ह्हह्ह कि आवाजें निकालने लगी | फिर मैंने उसको उठाया और जीन्स से लंड बाहर निकल के कहा चूस डालो इसे | तो उसने थोड़ी देर तक मेरा लंड चूसा लेकिन मुझे मज़ा नहीं आया तो मैंने उसका सिर पकड़ा और उसके मुंह को चोदने लगा | मेरा लंड उसके मुंह के पुरे अन्दर तक जा रहा था | फिर मैंने अपना लंड बाहर निकाला और उसे सीट पर लिटा दिया |

फिर मैंने उसकी चूत पे अपना लंड रखा और धीरे से अन्दर डाला तो मेरा लंड अन्दर नहीं गया | तो मैंने एक झटका मारा तो मेरा लंड ऊपर से थोडा सा अन्दर चला गया और उसने आवाज़ की जैसे मैंने चाकू घुसा दिया हो | फिर मैंने थोड़ी देर तक उसकी चूत में अपना लंड रहने दिया और बहुत धीरे धीरे आगे पीछे करने लगा और वो आअह्ह्ह्ह ह्ह्हह्ह्ह्ह य्य्याह्ह्ह्ह ईएह्ह्ह्ह ऊम्म्म्म करने लगी | जैसे ही मुझे लगा कि उसका दर्द थोडा सा कम हो गया है तो मैंने ज़ोर ज़ोर के झटके मारना शुरू कर दिया और वो अब ज़ोर ज़ोर से आह्ह्ह्ह ऊउह्ह्ह्ह ऊऊम्म्म ह्हान्न्नन्न आःह्ह ऊह्ह्ह्ह करने लगी | मैंने करीब 15 मिनिट उसको चोदा और फिर मेरा मुट्ठ निकलने को हुआ तो मैंने अपना लंड बाहर निकाला और उसकी चूत के सामने हिलाने लगा | फिर मेरा मुट्ठ निकला और उसकी एक बूंद उसके दूध पर जा गिरी और वो एकदम से हिल गई |

फिर हमने कपडे पहने और घर चले गए और फिर्जब भी हमारा मन होता है तो हम यहीं पर आ जाते हैं और मस्त चुदाई करके घर चले जाते है | बस दोस्तों इतना ही था, तो दोस्तों कैसी लगी मेरी कहानी |


error:

Online porn video at mobile phone


chut ki ranisexy khaniya hindiHindi sexi kahaniachut me lendindian sex story hindi meantarvastra hindi storysex story fbindian brother sister sexBhai ne bahan ko chudwaya kahanimom ki room me aavaje.sexstorymeri vasnatadap or hawas chudhai kahaniwww antavasna compadosan xxxbur chodai story in hindiबुआ कि बऊ के सात कि चुदाई कि कहानिdesi suhagrat mmssex devar and bhabhihindi kahani desimosi ko choda hindibehan bhai se chudaiMummy aur bua ko dakuo ne choda hindi storyhot bhabhi ki chudai ki kahaninisha ki chootwww.antarvasna.sex.stori.comsexy ladki chutantarvasnahindistory in hindisexy kahani hindi maisexy romanceअंतरवाशना भाभी की चूत पैसो पर चुदवायाnangi bur ki chudaichoot mein dandadesi new chutडॉक्टर का खेल इन हिंदी चुडाईhindi sex story lesbianmamta bhabhi ki chudaibiwi ko choda storyold sex storyKamuktaBhabhiji ne nandako chudvaya sexy storihindi ladki sexbhabhi aur devar ki chudai storychut ki chusaisex story aunty hindibua ke chodalamba lodamast boorhindi antrvasanasex stories and pictureswww.antarvasana.com in hindichudai with sisterchudai sex hindi kahanidada poti sexindiansexy storiesdidi ki chudai kahani antarvasnaओल्ड सेक्स स्टोरी हिंदीsex story antyभाभी की नगी चु कkahani hindi saxygarima ki chutkahani chutdasi sexikhula sexsexy hot chootDesi bees Hindi sex kahanichut merixnxx com indian sexladki ko choda storyhindi chudai story comdidi ki pantyBhojpuri chudai storyboor in hindigroup sexy story